यूपी पुलिस के एंटी रोमियो स्क्वाड पर हाई कोर्ट की मोहर , अब दिशानिर्देशों के तहत पकड़े जाएंगे मनचले

0
487

भाजपा सांसद योगी आदित्य नाथ के उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने के बाद यूपी पुलिस ने महिलाओं और लड़कियों के साथ छेड़खानी रोकने के लिए विशेष दस्ते का गठन किया था।जिसको एंटी रोमोयो स्क्वाड के नाम से रखा गया है !
कोर्ट ने कहा की उत्तर प्रदेश सरकार के इस प्रयास और ऐसी पुलिसिंग के लिए विशेष दस्ते के गठन में हमें कोई गैर-कानूनी या असंवैधानिक बात नहीं दिख रही है।” हाई कोर्ट के वकील श्री गौरव गुप्ता की जनहित याचिका (पीआईएल) पर सुनवाई कर रही थी।

इसके साथ ही हाई कोर्ट ने राज्य सरकार के इस फैसले को “मोरल पुलिसिंग” मानने से इनकार कर दिया। हाई कोर्ट ने कहा है कि दरअसल ये “पुलिसिंग” पर रोक की कोशिश है। याचिककर्ता श्री गौरव गुप्ता ने अपनी याचिका में कहा था कि राज्य में भाजपा सरकार बनने के बाद बनाया गया ये विशेष दस्ता मुख्य रूप से “मोरल पुलिसिंग” व नैतिकता की पहरेदारी है। श्री गुप्तया की मांग थी कि हाई कोर्ट राज्य सरकार को आदेश दे कि एंटी-रोमियो स्क्वैड बालिगों और प्रेमी जोड़ों की निजता का उल्लंघन न करे।

इस याचिका में कहा गया था कि पुलिस की अवांछित कार्रवाई से शांति-व्यवस्था भी भंग हो सकती है। जस्टिस एपी साही और जस्टिस संजय हरकौली ने अपने फैसले में कहा, ” मौजूदा हालत से निपटने के लिए जो कमी होगी उसे दुरुस्त करने के लिए राज्य सरकार कानून बना सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here