आखिर क्यों झूठे साबित हुए “प्रधानमंत्री मोदी’

0
458

आखिर क्यों झूठे साबित हुए “प्रधानमंत्री मोदी’

जब बीएसपी के लिए मायावती ने कई चुनावी रैलियां कीं तो सपा-कांग्रेस गठबंधन की तरफ से अखिलेश और राहुल गांधी ने एक साथ प्रचार किया। और भारतीय जनता पार्टी ने तो आखिरी रण को जीतने के लिए प्रधानमंत्री मोदी को ही जमीन पर उतार दिया |

और पीएम मोदी ने लगातार तीन दिन तक रोड शो किया। जो ये दिखाता है कि भाजपा किस तरह पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी को लेकर डरी हुई है। इस बीच नेशनल दस्तक अब्बास अंसारी का साक्षात्कार किया। आप भी जानिए पूर्वांचल में बीएसपी के समीकरण को लेकर उन्होंने कहा-

की जब अब्बास अंसारी से यह पूछा गया कि आजकल दलित मुस्लिम एकता की चर्चा हर जगह है बीएसपी ने आपको और आपके पिता मुख्तार अंसारी को टिकट दी है क्या लगता है आप पुर्वांचल में बीएसपी को कितनी सीटे दिलवा पाएंगे है? और इसीलिए इस पर अब्बास ने कहा की ‘हर बात में वादा तो प्रधानमंत्री मोदी करते है। हम तो काम करने वाले लोग हैं आवाम के बीच रहने वाले लोग हैं और आवाम बहुत समझदार है। कि कब, कहां और किसका बटन दबाना है।’

इसी कारन की वजह से अखिलेश यादव ने कहा था कि पुर्वांचल के मुस्लिम मेरे साथ हैं? इस बात पर मजाकिया अंदाज में अब्बास ने कहा ‘देखिए भईया बड़े है अगर कह रहे है तो कहने दीजिए…11 को परिणाम पता चल ही जाएगा।’ लेकिन अगर मायावती जीतती है |

तो क्या उन्हे मंत्रीमंडल में जगह मिलेगी? तब अब्बास ने जवाब दिया कि ‘मंत्रीमंडल की चिंता तो नेता करते है हमे तो बस जनता का प्यार चाहिए’|

और आपको तो पता है की यूपी में विधानसभा चुनाव अपने आखिरी दौर में है आठ मार्च को सातवें और आखिरी चरण का मतदान होना है। 11 मार्च को चुनाव का रिजल्ट आएगा। इस बीच सभी पार्टियों के नेताओं ने दो महीने अपनी पार्टी की जीत के लिए जमकर प्रचार कर रहे है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here