Homeकविता कोशमुझे दर्द देकर सदा मुस्कुराना

मुझे दर्द देकर सदा मुस्कुराना

मुझे दर्द देकर सदा मुस्कुराना

MUJHE DARD DEKAR SADA MUSKURANA

मुझे दर्द देकर सदा मुस्कुराना
गमे दिल दुआ दे हमें भूल जाना।
1- मेरे आंसुओं पे कभी तुम ना जाना
    जी चाहे जितना हमें तुम रुलाना
    यादें कभी गर मेरी सताए
मुझे याद करना और भूल जाना।
मुझे दर्द……….
गमे दिल………
2- जहां तुमने छोड़ा वही फिर मिलूंगा
    तुम बदले से होंगे वही मैं रहूंगा
    कांटे बिछा और अंगारों पे चलाना मुझे फिर सताना और भी रुलाना
मुझे दर्द……….
गमे दिल………
3- जहां तुमने खायी हजारों थी कसमें
    उन्हीं कसमे वादे पर निभाऊंगा रस्में
    बेवफा होकर मेरी वफा देखलेना
मुझे भूलकर हमें भूल जाना
मुझे दर्द……….
गमे दिल………
ANIL KUMAR YADAV AKELA
अनिल कुमार यादव (अकेला )
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments