Homeकरियरस्टैनोग्राफर कैसे बनें? How to become a Stenographer?

स्टैनोग्राफर कैसे बनें? How to become a Stenographer?

स्टैनोग्राफर/आशुलिपिक

Stenographer
Stenographer

न्यूनतम योग्यता(दसवीं के बाद)
स्टैनोग्राफर बनने की लिए निम्नलिखित चरणों को पूरा करना आवश्यक है:
•दसवीं कक्षा के बाद, किसी अच्छे ITI या अन्य संस्थान में प्रवेश प्राप्त करके आशुलिपि सीखे।
•80 शब्द प्रति मिनट की गति के साथ हिंदी और अंग्रेजी में लिखना या टाइपिंग करना सीखे।
•किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएशन पूरा करें।
•आपके राज्य सरकार द्वारा आयोजित प्रतियोगी परीक्षा पास करे। लिखित परीक्षा पास करने के बाद, आपको एक टाइपिंग टेस्ट भी पास करना होगा।
आप प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी खुद पढ़कर या किसी प्रतिष्ठित कोचिंग संस्थान में एडमिशन लेकर कर सकते हैं। कोचिंग शुल्क लगभग ₹15000 तक हो सकता है।
शुरूआती वेतन: सरकारी स्टैनोग्राफर का वेतन राज्य सरकार की वेतन प्रक्रिया के आधार पर तथा निजी स्टैनोग्राफर की मासिक आय ₹15,000/- से ₹25000/- तक हो सकती है जो कि आपकी ज्ञान योग्यता और स्किल्स निर्भर करता है।
कोर्स और संस्थान के प्रकार
स्टैनोग्राफी के लिए भारत में कुछ प्रसिद्ध सरकारी और निजी संस्थान निम्नलिखित है:
•आईईसी विश्वविद्यालय, सोलन, हिमाचल प्रदेश
•सेंट जोसेफ कॉलेज फॉर वूमेन, विशाखापट्टनम, आंध्र प्रदेश
•गवर्नमेंट डिग्री कॉलेज फॉर वूमेन(GDCW), बारामुला, जम्मू कश्मीर
•श्री विश्वकर्मा निजी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान(SVPITI), इंदौर, मध्य प्रदेश
• रुरल पॉलिटेक्निक(gp), नांदेड, महाराष्ट्र
इस कोर्स के लिए सरकारी और निजी कॉलेजों में वार्षिक शुल्क लगभग ₹10000 से ₹26000 तक हो सकता है।
कैरियर के अवसर
आशुलिपिक वह व्यक्ति होता है जो अदालत, कॉरपोरेट कार्यालय, रक्षा कार्यालयों में काम करता है, और निर्देशक मंत्री आदि के सहायक के रूप में प्रेस कॉन्फ्रेंस या मीटिंग में उनके द्वारा बोले गए शब्दों को फटाफट टाइप करता है यह लिखता है। इसलिए स्टैनोग्राफर की नौकरी के लिए तेज और सटीक टाइपिंग आना बहुत महत्वपूर्ण है।
     स्टैनोग्राफर के लिए नौकरी के अफसर निम्नलिखित है:
•सरकारी क्षेत्र – न्यायालय, मंत्रालय, रक्षा कार्यालय, दूरदर्शन, पीआर, आदि।
•निजी शेत्र – कॉरपोरेट निर्देशकों या मीडिया हाउस (आजतक, एबीपी न्यूज़, राजस्थान पत्रिका, दैनिक भास्कर, जी न्यूज़, इंडिया टीवी, आदि) के लिए निजी सहायक के रूप में।
• आप अपना स्टैनोग्राफी प्रशिक्षण संस्थान भी शुरू कर सकते हैं।
प्रशांत पाल

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments