एटीएम में जिसमे भी स्वैप किया कार्ड हुआ कंगाल

0
299

एसबीआई के एटीएम केबिन पर बुधवार की शाम रुपया निकालने पहुंचे एक व्यक्ति को झांसा देकर जालसाज अपने पास रखे मशीन में कार्ड स्वैप करने लगा। स्वैप करते उसे कार्ड धारक ने देख लिया। वह उसे पकड़ कर शोर मचाने लगा।

इस बीच उसके दो साथी छोड़ाने का प्रयास करने लगे लेकिन आसपास के लोगों को आता देख वह फरार हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जालसाज के पास से स्वैप मशीन, तीन मोबाइल और लग्जरी वाहन बरामद कर उससे पूछताछ कर रही है।

महराजगंज जिले के श्यादेउरवा क्षेत्र के महुआ-महुई गांव निवासी विवेकानंद सिंह अपने बहन के बच्चों को पढ़ाने के लिए फातिमा अस्पताल के पास किराये का कमरा लेकर रहते हैं। उनकी बहन रंजना भी कभी-कभार बच्चों को देखने कमरे पर आ जाती हैं।

वह बुधवार को बच्चों के पास आई थी। उनके स्कूल में फीस जमा करने के लिए उन्होंने विवेकानंद को पति प्रमोद सिंह का एटीएम कार्ड देकर दस हजार रुपये निकालने के लिए भेजा। वह पादरी बाजार एसबीआई के एटीएम केबिन पर रुपया निकालने पहुंचे। दो बाद मशीन में कार्ड डालने के बाद भी वह कनेक्ट नहीं हुआ।

इस पास खड़े तीन युवकों में से एक युवक ने मदद करते हुए कार्ड उससे लेकर मशीन में स्वैप किया। कार्ड को निकालने के बाद वह गोपनीय पिन कोड डालने को बोला। विवेकानंद पिन कोड डालने लगा। इस बीच युवक अपने पास रखे

एक मशीन में कार्ड का स्वैप करने लगा। इतने में विवेकानंद की नजर उस पर पड़ गई। वह जालसाजी की आशंका में उसे पकड़ कर शोर मचाने लगा। उसके साथ खड़े दोनों युवक साथी को छोड़ाने लगे। शोर सुनकर आसपास के दुकानदार पहुंच गए। इस बीच दोनों युवक फरार हो गए। पकड़े गए युवक को पकड़ कर लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

सूचना पर पादरी बाजार पुलिस मौके पर पहुंची। उन्होंने जालसाज के पास से स्वैप मशीन, तीन स्मार्ट मोबाइल, एक चार पहिया लग्जरी वाहन बरामद कर हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। पूछताछ में जालसाज की पहचान बिहार प्रांत के पटना जिले के कंकड़बाग निवासी मनीष सिंह के रूप में हुई है।

फरार साथी की पहचान कंकड़बाग निवासी गौतम कुमार सिंह और कार चालक पटना के फतुआ निवासी भूषण कुमार के रूप में हुई। पुलिस उनके तलाश में जुट गई है। उधर, पीड़ित विवेकानंद ने जालसाज के खिलाफ तहरीर दे दी है। पुलिस मामले की जांच शुरू कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here