how to improve handwriting of your child – कैसे अपने बच्चे कि लिखावट सुधारे

0
520

कैसे सुधारे बच्चो की हेंड राइटिंग

 क्या आप जानते है कंप्यूटर के बढ़ते इस्तेमाल ने न केवल बच्चो की हेंड राइटिंग ही बिगाड़ दी है बल्कि लिखने के प्रति उनकी दिलचस्पी भी कम कर दी है आज बच्चे लिखने से ज्यादा टाइप करना ज्यादा सुविधाजनक समझते है और अपने हर काम को वे कम्प्यूटर एव फोन पर ही निपटा लेते है उन्हें लगता है की पढ़ाई में अच्छा परफॉर्म करने के लिए हेंड राइटिंग का सुन्दर होना उतना जरुरी नहीं है परन्तु उनकी यह सोच तब उनकी यह सोच  तब गलत साबित हो जाती है तब गलत साबित हो जाती है जब परीक्षा में सारे सही जवाब लिखने के बावजूद गंदी लिखाई के कारण उन्हें कम मार्क्स मिलते है लिखाई ख़राब होने के कारण टीचर्स उनके पेपर्स ठीक से पड़ नहीं पाते जिसके कारण जवाब सही होते हुए भी उन्हें कम मार्क्स मिलते है अतः लिखाई का सुन्दर और स्पष्ट होना बेहद जरुरी है यदि आप भी कुछ टिप्स अपना कर अपने बच्चो की हेंड राइटिंग को  सुधार सकती है
स्टडी टेबल की ऊंचाई सही हो :- बच्चे के स्टडी टेबल की ऊंचाई सही होनी चाहिए टेबल इतना ऊँचा होना चाहिए  जिस पर बच्चा आराम से कोहनिया टिका कर लिख सके साथ ही कुर्सी भी ऐसी होनी चाहिए जिस पर बैठने से बच्चे के पैर आसानी से जमीन तक पहुँच जाए
पैंसिल ग्रिप :- बच्चे को पैंसिल पकड़ने का सही तरीका बताए क्योकि गलत तरीके से पैंसिल पकड़ने से लिखने में कठिनाई होती है और लिखाई भी बिगड़ जाती है बच्चे को पैंसिल अंगूठे और दूसरी उंगली के बीच में रख कर पैंसिल के ऊपरी भाग को पकड़ कर लिखना सिखाए इस तरह से बच्चे को लिखने में आसानी होगी
न्यू स्टाइल :- अगर आप अपने बच्चे को अलग अलग तरह के राइटिंग स्टाइल सिखाना चाहती है तो बच्चे के सामने उस स्टाइल का मॉडल होना जरुरी है इसके लिए नोट बुक के हर पन्ने पर एक एक वर्ण लिख कर बच्चे को प्रैक्टिस करने को कहे ऐसा करने से वह नया स्टाइल आसानी से सीख पाएगा
पहला पाठ :- छोटे बच्चे को लिखना सिखाने के लिए डैस्क टॉप व्हाइट बोर्ड एव मार्कर इस्तेमाल करे बोर्ड पर कुछ लिख कर बच्चे को बताए की लैटर किस तरह से शुरू किया जाता है और किस तरह से स्ट्रोक बनाए जाते है बच्चे को तब तक वह इसे सही ढंग से उस लैटर की कॉपी करने दे एक बार जब बच्चा बोर्ड पर लिखना सीख जाए तो उसे पेपर पर लाइन के बीच में लिखना सिखाए अपनी निगरानी में उससे प्रैक्टिस करवाए और उसकी हेंड राइटिंग पर ध्यान दे अच्छा लिखने पर बच्चे की तारीफ करे इससे उसका उत्साह बढ़ेगा और वह ज्यादा अच्छी हेंड राइटिंग में लिखने की कोशिश करेगा
राइटिंग प्रोजेक्ट्स :- राइटिंग प्रोजेक्ट्स देकर भी बच्चे को हेंड राइटिंग सुधारने के लिए प्रोत्साहित किया जा सकता है आप उसे निम्न प्रोजेक्ट्स दे सकती है दोस्तों को लैटर लिखने के लिए कहे  फेंसी पेपर पर कविता लिखने के लिए कहे और उसे दीवार पर लटकाए कोई कविता कॉपी करने के लिए कहे और इसे पोयट्री बुलेटिन बोर्डया बच्चे की नोट बुक में रखे
टिप्स :- बिना काट पीट किए लिखने की कोशिश करे ओवर राइट न करे यदि कुछ गलत हो गया है तो उसे सिर्फ एक सिंगल लाइन से क्रॉस करे
सभी अक्षर एक ही लाइन में लिखे सभी लैटर एक जैसे होने चाहिए इस बात का भी ध्यान रखे की कुछ झुके हुए न हो शब्दों के बीच कितनी जगह छोड़नी है इसका भी ध्यान रखे
नया पैराग्राफ शुरू करने से पहले दो उंगली का गैप छोड़े आपके बच्चो की लिखाई उसके व्यक्तित्व को दर्शाती है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here