सीएम योगी आदित्यनाथ के नाम पर कई संगीन मामले है दर्ज |

0
550

सीएम योगी आदित्यनाथ के नाम पर कई संगीन मामले है दर्ज |

हम आपको बता दे की योगी के खिलाफ धर्म, जाति, जन्म स्थान, निवास, भाषा आदि के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने का और सद्भाव बिगाड़ने के मामले में आईपीसी की धारा 153 ए के तहत दो मामले दर्ज किये हैं |

और इसके अलावा उनके खिलाफ वर्ग और धर्म विशेष के धार्मिक स्थान को अपमानित करने के आरोप में आईपीसी की धारा 295 के दो मामले दर्ज किये हैं |

इसीलिए उनके खिलाफ कृषि योग्य भूमि को विस्फोटक पदार्थ का इस्तेमाल करके नुकसान पहुंचाने के इरादे से कार्य करने आदि का एक मामला भी दर्ज है. और यही नहीं उनके खिलाफ आपराधिक धमकी का एक मामला आईपीसी की धारा 506 के तहत दर्ज है. उनके विरुद्ध आईपीसी की धारा 307 के तहत हत्या के प्रयास का एक संगीन मामला अभी भी चल रहा है |

हम आपको बता दे की योगी आदित्यनाथ को गोरखपुर दंगों के दौरान गिरफ्तार किया गया था. और इन दंगों के दौरान एक युवक के मारे जाने के बाद बिना प्रशासन की अनुमति के योगी ने शहर के मध्य श्रद्धान्जली सभा आयोजित की थी और कानून का उल्लंघन किया था |

इसके बाद उन्होंने अपने हजारों समर्थकों के साथ गिरफ़्तारी दी थी. उस वक्त आदित्यनाथ को सीआरपीसी की धारा 151A, 146, 147, 279, 506 के तहत जेल भेजा गया था.

इसी दौरान उनके संगठन हिन्दू युवा वाहिनी के सदस्यों ने मुंबई-गोरखपुर गोदान एक्सप्रेस के कुछ डिब्बों में आग लगा दी थी. जिसमें कई यात्री बाल बाल बच गए थे. उनकी वजह से पूर्वी उत्तर प्रदेश के छह जिलों और तीन मंडलों में भी फ़ैल गए थे. उस वक्त सूबे में मुलायम सिंह यादव की सरकार थी |
गोरखपुर के सांसद योगी आदित्यनाथ उर्फ अजय सिंह यूपी के नए सीएम होंगे. जितने विवाद योगी से जुड़े रहे हैं, तो उतने ही आपराधिक मामले भी उनके खिलाफ दर्ज हैं. जिनमें हत्या के प्रयास जैसे संगीन मामले भी शामिल हैं. उनके खिलाफ गोरखपुर और महाराजगंज में लगभग एक दर्जन मामले दर्ज हैं. जिनका जिक्र उन्होंने लोकसभा चुनाव के दौरान अपने हलफनामे में किया |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here