सहारनपुर का दर्द पहुंचा शाहजहांपुर, जातीय हिंसा पर फिर भड़के लोग

0
475

शाहजहांपुर। सहारनपुर में हुए जातीय हिंसा के बाद यूपी के शाहजहांपुर में दलित समाज के लोगों ने प्रदेश की बीजेपी सरकार के खिलाफ रैली निकालकर धरना प्रदर्शन किया।रैली के दौरान दलित समाज के लोगों ने मोदी और योगी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। हालांकि जब रैली निकाले जाने की खबर पुलिस प्रशासन के आलाधिकारीयों को लगीतो सभी आलाधिकारी इकट्ठा हो रहे दलित समाज के लोगों के पास पहुंचे और रैली न निकालने का दवाब बनाते रहे। इधर लोग रैली निकालने और कलेक्ट्रेट में ज्ञापन देने पर अड़ेरहे और आखिरकार कड़ी सुरक्षा के बीच रैली को कलेक्ट्रेट तक पहुंचाया जहां सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन दिया गया। दलित समाज के लोगों की मांग है कि प्रदेश की बीजेपीसरकार को तत्काल बर्खास्त कर सहारनपुर में हिंसा फैलाने वाले अपराधियों पर कड़ी कार्रवाई की जाए।

दरअसल सहारनपुर में हुई जातीय हिंसा के बाद देश भर में दलित समाज के लोगों का धरना प्रदर्शन शुरू हो गया है। सदर बाजार थाना क्षेत्र के बौद्ध नगर कॉलोनी में अनुसूचितजाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक वर्ग महासभा के जिला अध्यक्ष अरविंद टाइगर के नेतृत्व में सैकड़ों लोग इकट्ठा हुए और सहारनपुर में दलितसमाज के लोगों पर हुए हमले का विरोध प्रदर्शन करने लगे। इस दौरान दलित समाज के लोग रैली निकालकर जिला कलेक्ट्रेट में सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन देने निकले ही थे।तभी पुलिस प्रशासन को इसकी भनक लग गई। जिसके बाद सीओ सिटी अवनीश्वर चन्द्र श्रीवास्तव, इंस्पेक्टर सदर बाजार केके तिवारी, भारी पुलिस बल के साथ रैली स्थल परपहुंच गए जहां पुलिस ने रैली निकाल रहे लोगों को रोक लिया।

वहीं पुलिस दलित समाज के लोगों से रैली न निकालने का दवाब बनाती रही और कलेक्ट्रेट में ज्ञापन देने के बजाए बौद्ध नगर कॉलोनी में ज्ञापन दिलवाने की बात कहते रहे।इतना ही नहीं सिटी मजिस्ट्रेट खुद ज्ञापन लेने बौद्ध नगर कॉलोनी पहुंच गए लेकिन अपनी मांग पर अड़े लोगों ने पुलिस की एक न सुनी और भारी सुरक्षा के बीच रैली निकालीऔर जिला कलेक्ट्रेट गेट पहुंचे। इस बीच सिटी मजिस्ट्रेट सीओ समेत भारी पुलिस बल रैली के साथ रहा। ताकि रास्ते में ऐसी कोई घटना न हो जाए जिससे भारी बवाल हो।फिलहाल गेट पर पहुंचे दलित समाज के लोगों ने ज्ञापन देकर मांग कि है की प्रदेश सरकार को तत्काल बर्खास्त किया जाए। प्रदेश सरकार ही दलितों पर हमले कराकर उन्हें बेघरकर रही है।

जिला अध्यक्ष अरविंद टाइगर ने कहा कि सहारनपुर में ठाकुरों द्वारा दलित समाज के लोगों पर हमले किए जा रहे हैं उनके घरों और दुकानों में आग लगाई जा रही है। घरों मेंघुसकर महिलाओं से अभद्रता की जा रही है। इसमें पुलिस अपराधियों का पूरा साथ दे रही है। क्योंकि बीजेपी दलितों का दमन करना चाहती है। उनकी मांग है कि बीजेपी सरकारको तत्काल बर्खास्त कर सहारनपुर हिंसा की सीबीआई जांच की जानी चाहिए और जिन लोगों के घर जला दिए गए हैं उनके पक्के घर बनवा कर दिए जाएं, मरने वालों को पचासलाख का मुआवजा दिया जाए। इस दौरान कलेक्ट्रेट में भी पुलिस से लोगों की नोकझोंक होती रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here