शादीशुदा जीवन में रंग भरे हरियाली तीज

0
919

सावन मास की शुक्ल पक्ष की तृतीया को हरियाली तीज मनाई जाती है यह पर्व हमारे सर्वप्रिय पौराणिक युगल शिव पार्वती के पुनर्मिलन के उपलक्ष्य में मनाया जाता है हरियाली तीज पर बारिश की रिमझिम बूंदे त्योहार को और अधिक उमंग से भर देती हैं जैसे मानसून आने पर मोर नृत्य करते हैं

उसी प्रकार महिलाएं भी सज सवरकर झूला झूलती हैं और नृत्य करती हैं और इसी दिन करवा चौथ की तरह व्रत रखा जाता है सभी महिलाएं अपने जीवनसाथी के लिए मन्नतें मांगती हैं

और  जिन कन्याओं की शादी तय हो चुकी होती है वह भी व्रत उपवास करके ससुराल से आया हुआ श्रंगार का सिन्दरा लेकर  धूमधाम से इस पर्व को मनाती हैं

आचार्य मुकेश जी

9810591598

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here