ये बदलाव जो बताते है गर्भावस्था के शुरुआती लक्षण :-

0
647

ये बदलाव जो बताते है गर्भावस्था के शुरुआती लक्षण :-

आज हम आपको गर्भावस्था के बारे में बताना चाहते है जी अगर आपने अभी हाल हीं में बिना गर्भनिरोधक या बिना कन्डोम के सम्भोग किया है, तो आप गर्भवती हो सकती हैं, और आप में आने वाले कुछ ऐसे बदलाव आपको यह बता देंगे कि गर्भ ठहरा है या नहीं, अगर आप अपनी इच्छा से गर्भवती हुई हैं, तो यह आपके लिए एक अच्छी खबर है, गर्भवती होने पर एक स्त्री के शरीर, मन और Mood में कई बदलाव आने लगते हैं.
तो आइए जानते हैं क्या हैं, गर्भवती होने के कौन से लक्षण है |

गर्भवती होने के सामान्य लक्षण :-
आप तो जानते है की Period असमान्य अवस्था में भी बंद हो सकता है, लेकिन अगर आप पूरी तरह स्वस्थ्य हैं और आपका मासिक स्राव बंद हो गया है, तो यह आपके गर्भवती होने का एक लक्षण है. कुछ स्त्रियाँ जब गर्भवती हो जाती है, तो उनके स्तनों से दूध का रिसाव शुरू हो जाता है |

साथ ही स्तनों से दूध का रिसाव होना भी गर्भ ठहरने का एक लक्षण है, स्तन भारी हो जाते हैं, और साथ हीं थोड़े बड़े भी हो जाते हैं | गर्भधारण करने के बाद गर्भावस्था के शुरूआती 3 महीनों में सेक्स करने की इच्छा बढ़ जाती है. इस दौरान सेक्स किया जा सकता है |

लेकिन कुछ सावधानियों के साथ. खट्टे या चकदार चीजें खाने की बहुत ज्यादा इच्छा होना. हमेशा कुछ न कुछ खाने की इच्छा होना, गर्भवस्था के पहले तीन महीने में बार-बार पेशाब जाना भी, गर्भ ठहरने का एक लक्षण है. और थोड़ा-बहुत काम करने पर भी बहुत ज्यादा थकान, या ज्यादा अनावश्यक चिड़चिड़ापन आना भी गर्भावस्था में एक सामान्य बात है |

खानपान में बिना किसी बड़े बदलाव के उल्टी या बदहजमी होना भी गर्भ ठहरने का एक लक्षण है. गर्भाशय में ऐथन और पेट में उसी प्रकार की पीड़ा जैसा Periods के दौरान होता है | Period में ज्यादा रक्त आना भी गर्भवती होने का लक्षण है. गर्भवस्था में आपको विशेष सावधानी बरतनी चाहिए |

और कुछ खास चीजों का पालन करना चाहिए. और इस बात कि पूरी जानकारी जुटानी चाहिए कि आपके खानपान से लेकर आपके विचारों तक का आपने होने वाले बच्चे पर कैसा प्रभाव पड़ेगा.
और अगर आप न चाहते हुए गर्भवती हो गईं हैं, तो आपको गर्भपात के घरेलू नुस्खों को आजमाना चाहिए |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here