मोदी राज में बड़ी ख़ुदकुशी ;किसान सभा 

0
583
नई दिल्ली ऑल इण्डिया किसान सभा का कहना है की एनडीए सरकार के तीन साल में किसानो को निराशी मिली और आत्महत्या व विस्थापन बड़ा उन्होंने कहा की किसानो की आजीविका के ऊपर किए जा रहे हमले के मुददे को उच्चतम न्यायालय भी लेकर जाएगी वर्ष 2015 – 16 में देश के इतिहास में पहली बार एनडीए सरकार द्वारा कृषि और खुदरा व्यापार में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश को अनुमति दी थी ऑल इण्डिया किसान सभा से जुड़े पदाधिकारियों ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को फ्लॉक बताया उन्होंने आरोप लगाया की भूमि अधिग्रहण अध्यादेश व पशु व्यापार पर प्रतिबंध किसानो पर भारी हमला है सभा के प्रमुख हन्नान मोल्ला ने कहा की मोदी राज में कृषि को कॉरपोरेट की और ले जाया जा रहा है जबकि किसान गंभीर संकट से जूझ रहे है उन्होंने कहा है की लोकसभा चुनाव में भाजपा ने वादा किया था की सभी फसलों का दाम लागत से 50 प्रतिशत बड़ा कर देगी लेकिन आज तक इसे पूरा नहीं किया गया किसानो की आत्महत्याओं को रोकने के लिए कोई कदम नहीं उठाया  गया उन्होंने कहा की कृषक वर्गों के ऊपर हमले के विरोध में भूमि अधिकार आंदोलन के साथ मिलकर अखिल भारतीय किसान सभा देश भर के दुग्ध उत्पादक व पशु पालको को लामबंद करेगी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here