बच्चो की प्रतिभा निखारने के लिए बनेगा मोडल स्कूल

0
275

जिले के विकास के लिए 1980 के दशक में गठित किए गए मेवात विकास अभिकरण (एमडीए) के अंतर्गत नूंह जिले में चलाए जा रहे आठ मेवात मॉडल स्कूलों के दिन अब फिरने जा रहे हैं.

यहां शिक्षा में सुधार और अध्यापकों व छात्र-छात्राओं की निगरानी के लिए जल्द ही मोबाइल ऐप लांच किया जाएगा. इसके साथ ही इन स्‍कूलों में पांच गेम शुरू किए जाएंगे.

शिक्षा के स्तर को बढ़ाने के लिए नूंह उपायुक्त एवं एमडीए के मुख्‍य कार्यपालन अधिकारी (सीईओ) अशोक कुमार शर्मा मेवात मॉडल स्कूलों का दौरा कर चुके हैं.

उपायुक्त के मुताबिक शिक्षा में सुधार और अध्यापकों व छात्र-छात्राओं की निगरानी के लिए ही जल्द मोबाइल ऐप लांच किया जाएगा.

जिले के कुल आठ मेवात मॉडल स्कूलों में जल्द ही 5 गेम- बास्केटबॉल, वॉलीबॉल, बैडमिंटन, टेबल टेनिस और खो-खो शुरू किए जाएंगे. इस दिशा में जल्द ही अमल देखने को मिलेगा.

अशोक कुमार शर्मा ने पत्रकारों से चर्चा में कहा कि मेवात पिछड़ा जिला होने की वजह से सरकार ने 1980 के दशक में जिले में एमडीए का गठन किया था.

एमडीए के अंतर्गत जिले में आठ मेवात मॉडल स्कूल चल रहे हैं. इनमें नूंह, नगीना, मढ़ी, फिरोजपुर झिरका, पुन्हाना, खानपुर घाटी और तावडू के अलावा पलवल जिले का हथीन शामिल है.

उपायुक्त ने कहा कि मेवात मॉडल स्कूलों की पढ़ाई में कैसे सुधार हो, इस पर काफी सोच-विचार चल रहा है. टीचर की रिक्वायरमेंट के लिए हरियाणा शिक्षा विभाग द्वारा टेस्ट लिए जा रहे हैं. अगले सेशन से पहले सभी भर्तियां पूरी कर ली जाएंगी.

डीसी ने कहा कि जल्द ही मेवात मॉडल स्कूल के लिए मोबाइल ऐप लॉन्च करने जा रहे हैं. इसमें सभी बच्चों और अध्यापकों का न केवल रिकॉर्ड होगा, बल्कि स्कूल की पढ़ाई से लेकर हर गतिविधि पर नजर रखी जाएगी. इसमें स्टडी के लिए वीडियो भी होंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here