ऑटो कंपनियों को लगा बड़ा झटका, 1 अप्रैल से देश में BS-III शोरूम से बाहर नहीं जाएंगी 8.24 लाख गाड़ियां

0
559

ऑटो कंपनियों को लगा बड़ा झटका,  1 अप्रैल से देश में BS-III शोरूम से बाहर नहीं जाएंगी 8.24 लाख गाड़ियां नई

 दिल्ही :-  सुप्रीम कोर्ट से ऑटोमोबाइल कंपनियों को बड़ा झटका लगा है. दिन ब दिन बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए कोर्ट ने 1 अप्रैल 2017 से ऑटो निर्माता कंपनियों के बीएस-3 गाड़ियां बेचने पर रोक लगा दी है.

ऑटो कंपनियों के पास कुल 8.24 लाख बीएस वाहन स्टॉक में पड़े हैं.इसमें साढ़े छह लाख से ज़्यादा दोपहिया वाहन, करीब 40 हजार तिपहिया, 96 हजार के करीब व्यावसायिक वाहन और करीब 16 हजार कारें हैं.

सके पहले सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि वाहन कंपनियों को 2014 में ही बीएस-चार अधिसूचना के बारे में पता था और जब लोगों को 2010 से ही इसके बारे में जानकारी हो गई थी, इसके बावजूद कंपनियों ने स्टाक खत्म नहीं किया. कोर्ट ने  कहा कि सड़क पर चलने वाली गाड़ियों के अनुपात में संख्या कम हो, लेकिन लोगों के स्वास्थ्य को ताक पर नहीं रखा जा सकता.

कोर्ट ने कहा कि यह मामला सीधे-सीधे स्वास्थ्य से जुड़ा है और ऐसे मामले में हम कंपनियों के फायदे के लिए लोगों के स्वास्थ्य को खतरे में नहीं डाल सकते.

वाहन निर्माताओं के संगठन सियाम की ओर से कहा गिया कि कंपनियों को यह स्टॉक निकालने के लिए करीब एक साल का समय चाहिए. उनका कहना है कि इन्हें हटाने का काम धीरे-धीरे होना चाहिए क्योंकि 2010 से मार्च 2017 तक 41 वाहन कंपनियों ने 13 करोड़ बीएस-तीन वाहन बनाए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here