एक माँ ने अपने बेटे की मौत के बाद दिखाई दरियादिली – Ek Maa ne apne bete ki maut ke baad dikhayi Dariyadili

0
244

एक घर में एक बेटे की मौत में एक तरफ मातम परसा हुआ था लेकिन दूसरी तरफ तीन घरो के चिराग बुझाने से बच गए

एक माँ ने अपना बेटा तो खो दिया लेकिन उसके एक साहसिक और बेहतर फैसले ने तीन लगो की जिंदगी बदल दी 26 वर्षीय आशुतोष सड़क दुर्घटना में बुरी तरह घायल हो गए थे

अस्पताल में डॉक्टरों ने उसे बचने की जी तोड़ कोशिश करि लेकिन आखिर में मरीज को ब्रेन डेड घोषित करना ही पड़ा

मोके पर मौजूद युवक की माँ ने दरियादिली दिखाते हुए तत्काल बेटे के अंगदान का फैसला किया

आशुतोष की माँ ने उसका दिल , लीवर, और दोनों किडनी दान करने का फैसला लिया डॉक्टरों ने टीम के साथ सर्जरी की जिसमे चार घंटे लगे

जबकि लीवर और किडनी ट्रांसप्लांट डॉक्टर नीरव गोयल को दी गई आशुतोष के दिल लीवर और किडनी डोनेट करने के लिए बेहिचक तैयार थे

उसका दिल 33 वर्षीय एक पुरुष मरीज को दिया गया मरीज की हार्ट फंक्शनिंग ठीक नहीं थी उसका लीवर 49 वर्षीय व्यक्ति को दिया और उसकी एक किडनी 49 वर्षीय मरीज को दी गई और आशुतोष की दूसरी किडनी अन्य अस्पताल के किसी मरीज के लिए भेजी गई है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here