अब भाजपा ले सकती है ये पांच बड़े फैसले

0
655
लखनऊ. उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार पूर्ण बहुमत से बनने जा रही है। ऐसे में अब कई सवाल लोगों के जेहन में उठ रहे हैं। यूपी की जनता अब जानना चाहती है कि भाजपा अब कौन-कौन से प्रदेश के लिए बड़े फैसले ले सकती है। लोग अब यह भी जानना चाहते हैं कि भाजपा प्रदेश में किसको मुख्यमंत्री बनाने जा रही है। ऐसे ही कई अन्य सवाल हैं, जो जनता जानना चाह रही है। आइए हम जानते हैं, भाजपा के वह पांच बड़े फैसले जो अब वह शपथ ग्रहण के बाद लेगी…।
1. राम मंदिर
भाजपा ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में भी इस महत्वपूर्ण मुद्दे को शामिल किया था। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने घोषणा पत्र जारी करते हुए कहा था कि अगर भाजपा सत्ता में आती है तो राम मंदिर का निर्माण कराया जाएगा। चूंकि अब भाजपा केंद्र व प्रदेश में भी है, इसलिए इस मामले में वह जल्द से जल्द कानून राय लेकर राम मंदिर निर्माण की प्रक्रिया को आगे बढ़ाएगी।
2. तीन तलाक का मुद्दा
यूपी चुनाव में तीन तलाक का मुद्दा भी हावी रहा। भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में भी इसे शामिल किया। भाजपा ने घोषणा पत्र में वादा किया है कि यदि उसकी सरकार बनती है तो वह इस मुद्दे पर कानूनी राय लेकर आगे की कार्रवाई करेगी। चूंकि यह मामला सुप्रीम कोर्ट में भी है, इसलिए भाजपा इस मुद्दे पर कानून विशेषज्ञों से राय लेकर आगे की कार्रवाई कर सकती है।
3. बुंदेलखंड विकास बोर्ड का गठन
भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश में सरकार गठन के बाद चौथा सबसे बड़ा फैसला बुंदेलखंड विकास बोर्ड के गठन का ले सकती है। इसे भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में भी शामिल किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने बुंदेलखंड में अपनी रैलियों और सभाओं में भी यह वादा करते आ रहे हैं। इसलिए शपथ ग्रहण के बाद भाजपा सरकार बुंदेलखंड के विकास के लिए बुंदेलखंड विकास बोर्ड के गठन का निर्णय ले सकती है।
4. सपा कार्यकाल में हुए घोटालों की जांच
भाजपा शपथ ग्रहण के बाद दूसरा सबसे बड़ा फैसला समाजवादी पार्टी (सपा) के कार्यकाल में हुए घोटालों की जांच के आदेश देकर ले सकती है। भाजपा ने अपने चुनावी कैंपेन में भी सपा कार्यकाल में बने एक्सप्रेस-वे, लैपटॉप वितरण समेत कई अन्य योजनाओं पर सवाल उठाती आ रही है। इसलिए संभव है भाजपा इन योजनाओं में हुए घोटाले की जांच करा सकती है।
5. 24 घंटे बिजली देना
भाजपा का पांचवां बड़ा फैसला बिजली पर लिया जा सकता है। बीजेपी ने सभी से जुड़े इस मुद्दे को अपने घोषणा पत्र में प्रमुखता से शामिल किया है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने यूपी का चुनावी घोषणा पत्र जारी करते हुए कहा था कि यदि पार्टी सत्ता में आती है तो अगले पांच साल में हर गांव में 24 घंटे बिजली की सुविधा दी जाएगी। ग्रामीणों को पहले 100 यूनिट बिजली 3 रुपए की दर से उपलब्ध कराई जाएगी। अब भाजपा इस मुद्दे को अमल में ला सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here