अपशकुन दूर करने के लिए लोग कुत्ते से कराते हैं बच्चों कि शादी 

0
415
दुनिया कहाँ से कहाँ जा पहुंची है लेकिन समाज में कई वर्ग हैं जिन्हें अन्धविश्वास ने अब तक बुरी तरह पकड़ रखा है | बच्चे को पहले ऊपर का दांत निकल आता है तो वह बड़ा अपशकुन होता है |
इस अपशकुन को दूर करने के लिए बच्चे कि शादी कुत्ते से कराई जाती है लड़का हो तो कुतियों से लकड़ी हो तो कुत्ते  से सोमवार शाम को अपशकुन दूर करने के लिए ऐसे ही मानले में 5  बच्चों कि शादी कराई गई सराईकेला जिले के आदित्यपुर में पश्चिम सिंघभम  से लेकर सिंघभम तक के बच्चों को अपशकुन दूर करने के लिए ऐसे ही मामले के लिए लाया जाता है |
आरती उतारने के बाद लगाते है  हल्दी
पहले बच्चे को दूल्हे कि तरह सजाया जाता है , फिर उसकी आरती उतरने के बाद हल्दी लगाई जाती है शादी कि तरह सारी रस्में करतें है आदिवासी समाज में ये तरीका वर्षों से चला आ रहा है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here